जानिये 6 मिनट वॉक टेस्ट के बारे में |6 Minute Walk Test in Hindi

| |

जानिये 6 मिनट वॉक टेस्ट| 6 Minute Walk Test in Hindi|6 Minute Walk Test for Oxygen|6 Minute Walk Test Pulse Oximeter.

6 minute walk test in hindi
6 minute walk test in hindi

6 Minute Walk Test in hindi – इसकी सहायता से आप अपना ऑक्सीजन लेवल किसी भी वक्त नाप सकते हैं। और किसी प्रकार की इमरजेंसी वाली स्थिति के लिये खुद को तैयार रख सकते हो।

कोविड-19 से इस समय पूरी दुनियां हलाकान है, भारत मे भी इस समय कोरोना का कहर जारी है। प्रतिदिन 3.5 से लेकर 4 लाख केस आ रहे है। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के वावजूद करोना थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे मे यह जरूरी हो जाता है कि हम अपनी हैल्थ पर पैनी नजर रखें।

दोस्तों कोरोना मे सबसे क्रूशल पाइंट है ऑक्सीजन लेवल। इसमे पैनिक होने के जरा भी जरूरत नहीं है, बस आपको सारी सावधानियां जैसे सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाते रहने के साथ अपने ऑक्सीजन लेवल पर लगातार नजर रखनी है। आप 6 मिनट वॉक टेस्ट के जरिये अपने फैफड़ों की कंंडीशन जान सकते है। तो क्या है ये मिनट वॉक टेस्ट आइये अब जरा इसके बारे मे जानते हैं।

क्या है 6 मिनट वॉक टेस्ट (6 Minute Walk Test in Hindi)

इसमे अपको पल्स ऑक्सीमीटर को अपनी फोरफिंगर मे लगा कर, जैसा कि चित्र मे दिखाया गया है, ऑक्सीजन की रीडिंग ले लेनी है। यह प्रतिशत मे आपके फेफड़ों मे आक्सीजन का लेवल बताता है। इसे निम्न प्रकार समझ सकते है।

ऑक्सीजन लेवल  –    मतलब   –    निष्कर्ष

1. 98% से 100% – बहुत अच्छा – चिंता की कोई बात नहीं।

2. 93% से 97%  – ठीक है   –   कुछ विशेष करने की जरूरत नहीं।

3. 90 % से 93 % – संतोषजनक – लेकिन योगा, एक्सरसाइज, और खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। आपको सारे उपाय करने है जिससे आक्सीजन लेवल 90% से नीचें न आने पाये। लेकिन पैनिक होने की जरा भी जरूरत नहीं है, मै आगे बताउंगा इसे 98% – 99% तक कैसे लाना है। मेरा आजमाया हुआ तरीका है।

इसके लिए आपको तीन बेहद सरल योगा करने होंगे , प्राणायाम, अनुलोम विलोम व कपालभारती, कुल अवधि लगभग 20-25 मिनट, इससे आपके फैफड़ों मे आक्सीजन का संचार बढेगा। इसे आप एक सप्ताह तक करे और फिर से पल्स ऑक्सीमीटर से आक्सीजन का लेवल नापें। 4- 5 अंकों की बृद्धि जरूर मिलेगी। आप योगा को कंटीन्यू करे। इससे जाता कुछ नहीं है अच्छे स्वास्थ्य के लिये आप रोजाना 20 मिनट तो दे ही सकते हैं।

4. 90% से नीचे अपने डाक्टर से सम्पर्क करे और आसपास के अस्पताल मे बेड कहां कहां खाली है जरूरत पड सकती है।

6 मिनट वॉक टेस्ट कैसे करें (6 Minute Walk Test in Hindi)

अब तक आपने अपने आपने ऑक्सीजन का लेवल पता कर लिया है।

अब आपको पल्स ऑक्सीमीटर के लगाये हुये किसी प्लेन जगह पर या फिर कमरे मे ही 6 मिनट तक वॉक करते हुये चलना है। 6 मिनट बाद आपको एक बार फिर से पल्स ऑक्सीमीटर की रीडिंग लेनी है। अगर रीडिंग मे कोई फर्क नहीं है वह पहले जैसी ही है तब आपके फैफड़े एकदम स्वस्थ है। 5 अंकों से ज्यादा की गिरावट बताती है फैफड़े स्वस्थ नहीं है, उसमे संक्रमण हो सकता है। आपको ध्यान देने की जरूरत है। संक्रमण कोई जरूरी नहीं है कोरोना का ही हो। इस प्रक्रिया को आप दो तीन बार दोहराये। और हर समय गिरावट 5 अंको से ज्यादा की है तब डाक्टर से सम्पर्क जरूर करे।

अभी तक आपने 6 मिनट वॉक टेस्ट के बारे मे जाना (6 Minute Walk Test in hindi) इसके बारे मे अपने विचार व अनुभव हमे कमेंट के माध्यम से जरूर बतायें।

और देखें:

RT PCR टेस्ट क्या होता है।

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर क्या है ?

गिलोय के फायदे।

नीबू की चाय के फायदे।