संक्षिप्त परिचय – Brief Introduction

| |

Brief Introduction 

हिंदी ब्लॉग apnisibaatey.com पर आपका स्वागत है। हिंदी मे ब्लॉग लाने के पीछे तीन प्रमुख कारण है,

पहला कारण है लोगों की मदद करना। इंटरनेट पर हिंदी भाषा की कम जानकारी उपलब्ध है अंग्रेजी मे जानकारी भरी पड़ी है लेकिन हिंदी भाषी लोग उसका पूरा लाभ नहीं उठा पाते हैं।

दूसरा कारण हिंदी भाषा जो कि एक बहुत समृद्ध भाषा है, की सेवा करना। विश्व मे जो स्थान हिंदी भाषा को मिलना चाहिए था वह नहीं मिल सका है कारण है इंटरनेट पर हिंदी भाषा की presence बहुत कम है। 

और तीसरा कारण बहुत ही महत्वपूर्ण है और वह राष्ट्र से संबंधित है। महात्मा गांधी ने कहा था “राष्ट्र भाषा के बिना देश गूंगा है “। दुनियां के सभी विकसित और शक्तिशाली राष्ट्रो की अपनी अपनी भाषा है ब्रिटेन और अमेरिका की अपनी अपनी इंग्लिश है जापान की जैपनीज है इटली की इटेलियन है,जर्मनी की जर्मन, रूस की रशियन, चीन की मेंडेरियन है। भारत की भी हिन्दी भी है लेकिन ये जो देश है अपनी भाषा का ही प्रयोग करते है। हिन्दी को हमारे देश मे वह दर्जा प्राप्त नहीं है।

परिचय : Introduction (Brief Introduction)

शुरुआत Brief introduction से ही कर रहा हूं, मेरा नाम यशवंत बिष्ट है मैं मूल रूप से उत्तराखंड गढवाल से हूं मेरा शिक्षा क्षेत्र ग्वालियर जबलपुर दिल्ली रहा है। मेरा कार्य क्षेत्र दिल्ली गाजियाबाद है। लेखन मेरा शुरू से ही शौक रहा है। किंतु व्यस्तताओं और दूसरी प्राथमिकताओं की वजह से इस ओर ध्यान नहीं दे पाया।

दोस्तों ” जिंदगी मे आसानी से कुछ भी हासिल नहीं होता है और ऐसा कुछ भी नहीं है जिसे हासिल नहीं किया जा सकता है।”

जिदंगी मे परेशानियां मुसीबतें आती रहती है,” जिंदगी की 4 X 400 मीटर की हर्डल रेस मे आये हर्डल की तरह है परेशानियां और मुसीबतें। इनके बिना जिंदगी की हर्डल रेस मुमकिन नहीं है।”

मोटीवेशनल ब्लॉग ही क्यों ? (Brief Introduction)

इंटरनेट पर हिन्दी मे कंटेंट सीमित मात्रा मे है उस पर Motivational , Self improvement पर जानकारी और भी कम है। लोगों की इसी परेशानी को ध्यान मे रखते हुये ही रखते हुए यह ब्लॉग लाया गया है। इस ब्लॉग पर आपको निम्नलिखित जानकारी मिल सकेगी।

  • Self improvement tips and teqnics
  • Motivational stories
  • Biography
  • Quotes
  • Health and Beauty
  • और भी बहुत सी समसामयिक जानकारी

दोस्तों आपने देखा होगा आज किस तरह मोटीवेशनल और सफलता पूरा एक उद्योग बन गया है, सफलता सभी प्राप्त करना चाहते है, हर ब्यक्ति इसमें लगा है। सक्सेस कोचेज के बड़े बड़े सेमीनार होते है और इन सब मे बहुत सारा पैसा खर्च होता है। कहने का मतलब सिर्फ इतना ही है कि आज की तारीख मे सिर्फ एक शब्द जिसके पीछे दुनियाभर के लोग पड़े है वह “सफलता ” ही है। मेरी कोशिश रहेगी ब्लॉग के माध्यम से उपयोगी जानकारी आप सब तक पहुंचाता रहूं।

ब्लॉग अपनीसीबातें डाट कॉम के बारे मे

ब्लॉग पढने पर आपको इससे लगाव हो अच्छा लगे यही मेरी कोशिश रहेगी। आज के समाज मे हमारी और आपकी जरूरते बदल गयीं है “रोटी कपडा और मकान” की जगह अब ” इंटरनेट , पावर और दुकान ” ( बिजनेस ) ने ले ली है। Ye Dil Mange More की तर्ज पर  , थोडा और पैसा और पावर लोगों को चाहिए और इसी उधेड़बुन मे वह लगा रहता है। उसकी सोच और बातें इसी के इर्दगिर्द सिमट गयी है और आज के समय मे सफलता यानी SUCCESS की परिभाषा भी यही है। ये दोनों बातें सक्सेस की पर्यायवाची बन गयी है और सक्सेस आसानी से मिलनेे वाली चीज नहीं है। इसके लिये सबसे महत्वपूर्ण है जानकारी वह भी हिंदी मे। आज लोगोंं की सोच और बातों के केन्द्र बिन्दु मे यही दो चीजे हैं और इसीलिये इस ब्लॉग का नाम का नाम भी  apnisibaatey.com रखा है। ब्लॉग के बारे मे आपके द्वारा दिये गये सुझावों का स्वागत है। 

Brief Introduction:

मेरी शिक्षा : Education

मैने जबलपुर के रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय से बी एस सी की है।

उसके बाद एम बी ए फायनेंस मे पोस्ट ग्रेजुएशन की। 

उसके बाद दिल्ली से एक साल का कम्प्यूटर डिप्लोमा किया।

मेरे शौक : Hobby

रीडिंग बुक्स और आर्टीकल राइटिंग के अलावा मुझे इतिहास और खेलों मे भी रूचि है। खेलों मे मुझे क्रिकेट हाकी के अलावा फुटबॉल देखना पसंद है।

एक मध्य वर्ग से आने वाले ब्यक्ति के पास ज्यादा choices नहीं होती है सो ग्रेजुएशन करने के उपरांत रोजगार की तलाश मे दिल्ली आना पड़ा। एक छोटे शहर से बड़े शहर मे आने का अनुभव ही एक बुक लिखने के बराबर है दिल्ली मे अलग अलग स्थानों कार्य करते हुए वर्त्तमान मे मैं एक मल्टीनेशनल कम्पनी मे असिस्टेंट मैनेजर के पद पर कार्यरत हूं। ब्लॉग के माध्यम से मैं आप सभी के साथ मोटीवेशनल और सक्सेस स्टोरीज साझा करूंगा।

 

अगर आप मुझसे सम्पर्क करना चाहते है,

Email ID:

Email  : [email protected]

 

ApnisiBaatey