अजवाइन के फायदे और नुकसान। Carom Seeds in Hindi

| |

Carom Seeds in Hindi. Benefits Carom Seeds in Hindi. Carom Seeds Benefits in Hindi. अजवाइन के फायदे और नुकसान।

carom seeds in hindi
Carom seeds in hindi

Carom Seeds in Hindi – केरम सीड जिसे हम हिंदी मे अजवाइन कहते है। यह स्वाद मे तीखा एवं खुशबू वाला बीज है। इसमे मुख्यतः पूरी, पराठें, नमक पारे, मट्ठी के स्वाद को बढाने के लिये किया जाता है। आकार मे छोटे अजवाइन के बीज स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत गुणकारी है। इसमे एंटीऑक्सीडेंट, फाईबर, मिनरल्स और जलनरोधी तत्व प्रचुर मात्रा मे पाये जाते है। अजवाइन सर्दी जुखाम मे बेहद कारगर है। गरम पानी के साथ इसका प्रयोग करने पर एक साथ कई परेशानियों से छुटकारा पाया जा सकता है। इसे हाई ब्लडप्रेशर, कोलेस्ट्रॉल, असमय बालों के सफेद होने की समस्या को दूर करने के लिये किया जाता है। परम्परागत भारतीय चिकित्सा पद्धति मे इसका प्रयोग प्राचीनकाल से हो रहा है।

इसे भी पढ़ें : वीगन मिल्क क्या है ?

अजवाइन के फायदे। Carom Seeds Benefits in Hindi. 7 Health Benefits of Carom Seeds in Hindi।

इस आर्टिकल मे हम अजवाइन के कुछ और फायदों के बारे मे जानेंगे।

1. सर्दी जुखाम को दूर करे :

अगर आपको सर्दी जुखाम के साथ खांसी भी है, तो अजवाइन को गरम पानी मे काला नमक मिला कर पीने से राहत मिलती है। इससे कफ के साथ सीने की जकडन भी दूर होती है।

2. पेट की बिमारियों को दूर करे :

अगर आपके पेट या डायजेशन से संबंधित कोई भी समस्या है तो अजवाइन उसकी अचूक दवा है। आपको पेट दर्द, बदहजमी, खट्टी डकारें, एसीडिटी, पाचन से संबधित कुछ भी समस्या हो बस अजवाइन को अदरक के साथ पीसकर उसे गरम पाने मे काले नमक के साथ पीने पर इन परेशानियों को दूर किया जा सकता है। पाचन संबंधित समस्याओं के लिए अजवाइन अचूक दवा है।

3. गठिया मे कारगर :

अगर आपको भी गठिया की शिकायत है, तो अजवाइन आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। रात को एक गिलास मे आधा चम्मच अजवाइन को भिगोने रख दे और सुबह उठकर खाली पेट इसका प्रयोग करे , आप चाहे तो इसे उबालकर रख ले और फिर उसे सुबह खाली पेट पियें, गठिया मे आराम मिलेगा।

4. मोटापा कम करें :

अजवाइन को रात मे पानी मे भिगोकर रखें और उसे लगातार कुछ दिनों शहद के साथ मिलाकर कुछ दिनों तक पिये , आपका वेट लास जरूर होगा। अजवाइन के पानी को पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। अजवाइन के पानी को उबालकर पी सकते है।

5. कोलेस्ट्रॉल को नियमित करे :

अजवाइन के सेवन से शरीर मे कालेस्ट्राल की मात्रा नियमित होती है। यह शरीर से बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है औल गुड कोलेस्ट्रॉल को बढाता है। इसमे फाइबर और फैटी एसिड्स होते है। जो शरीर मे कालेस्ट्राल की मात्रा को संतुलित करते है।

6. ब्लड प्रेशर को करे नियंत्रित :

अजवाइन आपको ब्लडप्रेशर नियंत्रित करने मे मदद कर सकता है। अजवाइन मे मौजूद थायमोल ब्लडप्रेशर नियंत्रण मे सहायक है। अजवाइन हायपर टेंशन मे मददगार है। अजवाइन ब्लड मे कैल्शियम की एंट्री को रोकता है। इससे ब्लडप्रेशर नियंत्रण मे रहता है।

7. किडनी स्टोन को रोकने मे सहायक :

अजवाइन मे कैल्शियम आक्साइड को डिपोजीसन ( इकट्ठा होने ) रोकने की प्रोपर्टी होती है जो किडनी स्टोन को डेवलप होने से रोकती है। जो किडनी स्टोन के रिस्क को कम करता है।

अजवाइन मे पाये जाने वाले तत्व :

अजवाइन मे विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व विटामिन्स, मिनरल्स प्रचुर मात्रा मे पाये जाते है।

कार्बोहाइड्रेट – 37%

फैट – 18%

फाईबर : 12%

प्रोटीन – 15 %

सैफोनिंस – 7 %

मोइस्चर – 9%

इसके अलावा इसमे कैल्शियम, टैनिन, ग्लायकोसाइड, फास्फोरस, आयरन आदि मिनरल्स भी पाये जाते है।

अजवाइन के नुकसान :

सीमित मात्रा मे अजवाइन के सेवन से कोई नुकसान नहीं है। अधिक मात्रा मे सेवन से कुछ साईड इफेक्ट सामने आसकते है। एक चम्मच से अधिक दिन मे सेवन न करे। और लगातार पन्द्रह दिन से अधिक सेवन न करे। इससे होनेवाले साइड इफेक्ट्स मितली आना, चक्कर आना और सीने मे जलन से बचें। गर्भवती महिलाओं को इसके इस्तेमाल से बचना चाहिए।

और देखें :

अक्ल दाड को दर्द ऐसे करें दूर।

एंग्जायटी अटैक क्या होता है ? 

जानिये 6 मिनट वॉक टेस्ट के बारे में।

इम्यूनिटी पावर कैसे बढायें।

 

ApnisiBaatey