सफलता सुनिश्चित करने के लिए अपने आप में निवेश करें। Invest in Yourself in Hindi

Invest in Yourself in Hindi. सफलता सुनिश्चित करने के लिए अपने आप में निवेश करें।

invest in yourself in hindi
invest in yourself in hindi

Invest in Yourself in Hindi – जैसा कि इस लेख के शीर्षक से ही पता चलता है कि अगर आप अपने जीवन में सफलता सुनिश्चित करना चाहते है तो अपने आप में निवेश करना शुरू कर दें, वैसे तो इन्वेस्ट शब्द का सीधा सम्बन्ध धन , सोना या रियल एस्टेट से हैं, जहाँ पर आपका रिटर्न पहले से ही निर्धारित रहता हैं , लेकिन अपने आप में निवेश ( Invest in Yourself Hindi ) करने से आपको रिटर्न के रूप में सफलता के साथ वो सब मिल सकता है जिसकी आप ने कल्पना भी नहीं की होगी।

आज के इस लेख में हम आपको बताएँगे अपने आप में निवेश करने का मतलब ( Invest in Yourself Meaning in Hindi ) क्या होता है , और इसे किन किन तरीकों से किया जाता है।

अपने आप में निवेश करने का मतलब (Invest in Yourself Meaning in Hindi)

अपने आप में निवेश करने ( Aapne Aap Mein Nivesh Karen) का मतलब अपने आप में सुधार लाना, अपनी कार्य कुशलता बढ़ाना , इसके लिए आपको अपने लिए  समय देना होता है, अपने ऊपर कुछ खर्च करना होता है, अपने लिए मनोरंजन सम्बन्धी खर्च इस श्रेणी में नहीं आता है , क्योंकि यहाँ पर आपका उद्देश्य सिर्फ मनोरंजन करना होता है। किसी स्किल को सीखने पर किया गया खर्च , पैसे अथवा समय ही श्रेणी में आते है, अब आपको इसका मतलब ( Invest in Yourself Meaning in Hindi) समझ में आ गया होगा।

अपने आप में निवेश करने का मतलब है ( Invest in Yourself Hindi ) बेहतर जीवन जीने की गारंटी है। यह आपके जीवन का सबसे लाभ दायक निवेश होता है , इससे न केवल भविष्य में बेहतर रिटर्न आ सकता है बल्कि वर्तमान में भी आपको इसके फायदे मिलेंगे,

इससे आप सार्वजनिक जीवन में एक बेहतर जीवन जी सकते है, और अपनी प्रोफेशनल लाइफ में अपनी उत्पादकता बढ़ा सकते है। जो आपको अपने, पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों तरीकों से निवेश करने करने से आएगी। अब हम यह जानेंगे की अपने आप में निवेश के तरीके ( Invest in Yourself Hindi ) कौन कौन से है।

अपने आप में निवेश करने के तरीके (Ways of Invest in Yourself in Hindi)

सामान्यतः हम अपने आप को तीन तरह से समृद्ध कर सकते हैं,

  • अपने कौशल को बढ़ाये,
  • अपनी क्रिएटिविटी को समय दें,
  • अपने मन और शरीर का ध्यान रखें

अब इन तीनो को एक एक करके समझते हैं,

अपने कौशल को बढ़ाये (Invest in Yourself Hindi)

दोस्तों अपने कौशल को बढ़ाने का सबसे बड़ा फायदा आपको अपनी प्रोफेशनल लाइफ में होने वाला है, इसे आप अपनी शिक्षा बढ़ाकर भी प्राप्त कर सकते है, लेकिन ये केवल एक तरीका नहीं है अपने कौशल के विकास के लिए , अपने कौशल को बढ़ाने के लिए आप निम्न तरीके प्रयोग कर सकते हैं,

अपनी शिक्षा को बढ़ाएं

शिक्षा कौशल को बढ़ाने का सबसे मुख्य और प्रभावी तरीका है, इसका सबसे ज्यादा लाभ आपको अपने प्रोफेशनल  जीवन में मिलता है, आपकी जॉब या प्रोफेशन इसकी सबसे प्रभावी भूमिका रहती है, आपके कॅरियर में आपकी शिक्षा का रोल सर्वोपरि है, शिक्षा जितनी अच्छी होगी , आपके ग्रोथ के चान्सेस उतने ही अधिक रहते है, ऑनलाइन एजुकेशन और डिस्टेंस लर्निंग के इस दौर ने किसी भी उम्र में शिक्षा पाना और भी आसान हो गया है।

अपने आप को अप टू डेट रखें

अपने आप को समय के साथ अपडेट रखें , आप चाहे कितने भी ब्यस्त हो , आधे घंटे का समय डेली न्यूज हुए करंट अफेयर्स के लिए जरूर रखे, दुनिया में क्या चल रहा , खास खास ख़बरों के बारे में आपको पता होना चाहिए, इसके लिए आप विशेषज्ञों के ब्लॉग भी पढ़ सकते हैं।

अपने ज्ञान को बढ़ायें

आज पूरा इंटरनेट तरह तरह की जानकारियों से भरा पड़ा, आप अपने पसंद के किसी भी विषय पर Google या फिर You Tube में वीडियो देखकर अपनी जानकारी बढ़ा सकते हैं।

आवश्यक प्रशिक्षण लें

आजकल विभिन्न विषयों पर सेमिनार और गोष्ठियों का आयोजन  होते रहते , आप इनमे भाग लेकर अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं, आप अपनी रूचि के अनुसार कार्यशाला का चयन कर सकते है , अपनी आवश्यकता के अनुसार फ्री या पेड कोर्स को चुन सकते हैं।

अपनी क्रिएटिविटी को समय दें

दोस्तों हम सभी के अंदर कोई न कोई कला जरूर छुपी रहती है, जिसे हमे निखारने की जरुरत रहती है, अब ये अलग बात है की कुछ अपने इस टेलेंट के बारे में जानते है और कुछ लोग इसके बारे में नहीं जानते हैं, हम सभी के अंदर रचनात्मकता मौजूद रहती, बस जरुरत है उसे समझने और उसे निखारने की, और अगर आप ऐसा कर पाए तो आप अपने आप को आत्मविश्वाश से लबरेज इंसान पाएंगे।

कोई ऐसा काम जिसे करने से आपको अच्छा लगता हो , उसपर समय बिताना अच्छा लगता हो , तो इसे आप अपने कौशल के रूप में विकसित कर सकते हैं, इसके लिए आपको बहु ज्यादा धन या समय लगाने की जरुरत नहीं है , बस कुछ जानकारी गूगल या यूट्यूब से प्राप्त कर सकते है शेष काम आपका इंट्रेस्ट पूरा कर देगा।

इसके लिए आप निम्न में से कोई एक काम कर सकते हैं,

  • कुछ लिखें , कोई पुस्तक, कहानी या फिर कविता कुछ भी लिख सकते है ,
  • कोई वाद्य यन्त्र बजाना सीखें , गिटार , तबला या हारमोनियम कोई सा भी वाद्ययंत्र सीखे
  • चित्रकारी , बागवानी, फोटोग्राफी कुछ भी कर सकते हैं,
  • खाना खाने हुए पकने के शौकीन खाना बनाना की अलग अलग रेसिपी किख सकते हैं
  • कम्प्यूटर के शौकीन कोई लेंग्वेज या कोडिंग सीख सकते है ,

अपने मन और शरीर का ध्यान रखें

दोस्तों जब आप इतना सारा काम करेंगे तो आप को इसके लिए ऊर्जा की जरुरत होगी, आपको अधिक ज्ञान के सात आधी ऊर्जा, शरीरिक और मानसिक शक्ति की जरुरत पड़ती है , अपने शरीर की शारीरिक और मानसिक दोनों स्वस्थ्य का आपको दयँ रखना होगा, आइये अब इसको समझते हैं,

शरीर का ध्यान कैसे रखें

अपने इस शरीर से कुछ अच्छा आउटपुट प्राप्त करने के लिए आपको भी इसका ध्यान रखना पड़ेगा, अन्यथा आप बीमार पड़ तथा शारीरिक और मानसिक दोनों तारा से अपने आप को थका हुआ पाएंगे ,

समय समय पर डाक्टर के पास जाएँ

ऐसा नहीं है कि जब आप बिस्तर पकड़ ले , तभी आप डाक्टर के पास जा रहे है, ऐसा सभी करते है, हुए इसका नुकसान यह है, बीमारी से तो आप थी हो जाते है लेकिन आपका शरीर कमजोर पड़ने लगता है। अतः अपने आप को एकदम फिर रखने के लिए जरुरी है नियमित जनरल पाए डाक्टर के पास जाये, अपने आवश्यक टेस्ट कराएं, और समय समय पर विटामिन और मिनरल्स की गोलियां लेते रहें।

पौष्टिक आहार लें

भरपूर ऊर्जा प्राप्त करने के भोजन का रोल बहुत महत्वपूर्ण है, अपने काम के अनुसार अपने भोजन का भी चयन करें, भोजन में हरी शब्जियों और दाल का सेवन जरूर करें ताकि आपकी विटामिन और मिनरल्स उचित मात्रा में मिल सकें।

निश्चित समय अंतराल पर शरीर को आराम दें

काम को अपने ऊपर हावी न होने दें , निश्चित समय पर और उचित मात्रा में अपने शरीर को आराम दे, ऐसा करने से शरीर को मेंटेनेंस का समय मिल जाता है और वह काम के ऊर्जा से बारे मिलेगा।

मन के स्वाथ्य के लिए

अपनी मानसिक क्षमता का भी हमें विकास करते रहना चाहिए , यह एक दिन में करनेवाला काम नहीं है, अपितु यह निरंतर चलने वाली प्रोसेस है ,इसके लिए आप विभिन्न प्रकार की पुस्तक , मेग्जीन्स पढ़ सकते है, और विभिन्न प्रकार की डिबेट में भाग ले सकते है , या फिर आप ऐसे रणनीतिक खेल खेल सकते है जिसमे दिमाग लगता हो , कहने का मतलब आप अपने दिमाग को सक्रिय रख कर अपनी मानसिक क्षमता बढ़ा सकते है।

और अंत में

आज के इस लेख में आपने जाना अपने आप में निवेश करना ( Invest in Yourself in Hindi ) क्या है अपने आप में निवेश करने का मतलब क्या है ( Invest in Yourself Meaning in Hindi ) और इसे किस प्रकार करना है इसके बारे में जाना , इस लेख के बारे में हमें अपने विचार कमेंट में सूचित करें।

ये भी देखें

NLP in Hindi. NLP क्या है ?

जॉब इंटरव्यू कैसे दे ? 

जीवन में सफलता की बुलंद ईमारत तैयार करें।

गहरी नींद आने का उपाय। 

Leave a Comment

ApnisiBaatey