अनिद्रा के कारण, लक्षण और इसे दूर करने के घरेलू उपाय। Meaning of Insomnia In Hindi

Meaning of Insomnia In Hindi. Insomnia in Hindi . Insomnia Hindi Meaning . अनिंद्रा के कारण, लक्षण और इसे दूर करने के घरेलू उपाय।

Meaning of Insomnia In Hindi

Meaning of Insomnia in Hindi – इन्सोम्निआ का मतलब है ( Insomnia in Hindi ) अनिंद्रा। आज के इसआर्टिकल में हम आपके लिए लेकर आए हैं भरपूर नींद लेने के बारे में जानकारी। 

सामान्य तौर पर हम मनुष्यों के लिए 7 – 8  घंटो की नींद आवश्यक है , लेकिन आज कल ब्यस्त  जिंदगी की वजह से लोगों की नींद पूरी नहीं हो पाती और इसी वजह से शरीर को कई नुकसान होते हैं। दिनभर आदमी थका थका सा महसूस करता है। ऐसा लगता है शरीर में कोई ऊर्जा बाकी ही नहीं है। कुछ भी करने का मन नहीं करता है। ऐसे में अगर आप भी हर दिन पूरी नींद नहीं ले पाते तो इस लेख को पूरा पढ़ें इस लेख में हम आपको बताएंगे कि भरपूर नींद ना लेने ना लेना कितना ज्यादा हानिकारक हो सकता है इसके साथ साथ हम आपको कुछ उपाय भी बताएंगे जिन्हें अपनाकर आप अच्छी  नींद ले सकते हैं।  

अनिंद्रा के कारण  ( Causes to Insomnia )

नींद न आने के कई कारण हो सकते है, यह ब्यक्ति विशेष पर निर्भर करता है, नींद न आने के लिए नीचे दिए गए कारणों में से एक या एक से अधिक कारण जिम्मेदार हो सकते हैं,

  • रात को सोते चिंता या तनाव में रहना।
  • कैफीन युक्त पदार्थों का अत्यधिक सेवन।
  • सोने वाले कमरे में अधिक शोर या अधिक लाइट का होना।
  • सोने के समय और स्थान में बदलाव होना।
  • शरीर का किसी बीमारी से ग्रसित होना ,जैसे थायराइड , ब्लडप्रेशर , डायबिटीज।
  • शरीर नै अत्यधिक थकान होना।
  • सोने की गलत आदत होना जैसे खाने के तुरंत बाद ही बिस्तर पर जाना। खाने और सोने के बीच काम से कण दो घंटे का अंतर होना चाहिए।
  • डिप्रेशन में होना।
  • स्लिप सायकल में बदलाव।

अनिंद्रा के दुष्प्रभाव   (Bad Effects of Insomnia)

  • दिनभर शरीर में सुस्ती रहना, शरीर में  ऊर्जा का अभाव महसूस होना ।
  • किसी काम पर फोकस न कर पाना।
  • किसी भी काम में मन न लगना।
  • किसी भी काम को बेहतर ढंग से न कर पाना।
  • डिप्रेशन और एंग्जायटी होना।
  • पाचन सम्बन्धी समस्या उभरना।

यहाँ पर आपको एक बात में क्लियर कर देना चाहता हूँ Insomnia  या अनिंद्रा काफी लम्बे समय से नींद न ले पाने की समस्या है, सबसे पहले आपको यहाँ समझना पड़ेगा की क्या आप वाकई इंसोम्निया या अनिंद्रा से पीड़ित है, नींद न आने की समस्या टेम्परेरी भी हो सकती है, इसके कोई बाह्य वजह भी हो सकती है, जिसे आप को समझना भी जरूरी है, जैसे सोने के स्थान में परिवर्तन या सोने के कमरे में शोर होना आपकी नींद को प्रभावित करता है , ऐसे करने को तुरंत हटाया जा सकता है।  ट्रीटमेंट आपकी समस्या की जटिलता के हिसाब से ही होना चाहिए, यहाँ पर मई आपको कुछ ऐसे उपाय बताऊंगा जिसे आप स्वयं ही कर सकते हैं।

अनिंद्रा से बचने के घरेलू उपाय ( Insomnia Treatment )

आप अपनी आदतों में थोड़ा सा बदलाव करके अनिंद्रा की बीमारी से छुटकारा पा सकते है। कुछ ऐसे उपाय है जिन्हे करके आप काफी हद तक इस समस्या से छुटकारा पा सकते है,

  • सोने के कमरे को साफ़ सुथरा रखे, इसे स्टोर रूम की तरह बना कर न रखें।
  • सोने के कमरे कोई रोशनी न हो, हमेशा लाइट बंद करके ही सोएं।
  • सोने के कमरे में किसी भी क़िस्म का शोरगुल न हो।
  • भोजन और सोने सोने के बीच का अंतराल काम से काम दो घंटे का होना चाहिए , यदि आप का सोने का समय रात्रि 10 बजे है, तब आपको 8 बजे तक भोजन कर लेने के आदत होना चाहिए।
  • आपका सोने और जगाने का समय निश्चित होना चाहिए।
  • सोने के समय से पूर्व लैपटॉप या मोबाइल का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • इसके लिए आप कॉग्निटिव बिहेविअरल थैरेपी ( Cognitive bahavioral therapy )करावा सकतें हैं।
  • और आखिर में इसके लिए आप डाक्टर से कुछ दवाएं ले, ध्यान रहे बिना डाक्टर के सलाह आपको कोई दवा नहीं लेनी है।
और देखें :

अजवाइन के फायदे और नुकसान।

वीगन मिल्क क्या है। 

अक्ल दाढ़ दर्द को ऐसे दूर करें। 

एंग्जायटी अटैक क्या होता है। 

Leave a Comment

ApnisiBaatey