अत्यधिक सोचना क्या है ? Overthinking Meaning In Hindi

| |

अत्यधिक सोचना क्या है और इससे कैसे बचें ? Overthinking Meaning In Hindi / What is Overthinking Disorder in Hindi / Stop overthinking meaning in Hindi / How to Stop Over thinking in Hindi.

Overthinking Meaning In Hindi
Overthinking Meaning In Hindi

सोचना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है और अत्यधिक सोचना ( Overthinking Meaning In Hindi) इस प्रक्रिया का बुरा स्वरूप है। सोचना मानव स्वभाव की प्राकृतिक आदत है लेकिन किसी विचार के लगातार और अनुपयोगी प्रक्रिया को अत्यधिक सोचने की श्रेणी मे आता है।

आपने लोगों को अक्सर यह कहते हुये सुना होगा कि ‘ आप इस बारे मे ज्यादा ही सोच रहे हैं ‘ या ‘ आप ऐसे अकेले नहीं है ‘ ऐसे कमेंट्स अक्सर तभी आते है जब आप किसी वस्तु या विचार के बारे मे कुछ ज्यादा ही सोच रहे होते हैं।

विचार किसी भी वस्तु या स्थिति से संबंधित हो सकते है। किसी वस्तु के भूत काल या वर्तमान के बारे मे बात करना और भविष्य के बारे मे चिंता करना दोनों स्थितियों मे फर्क है। किसी वस्तु या स्थिति के बारे मे लगातार चिंतन करना जिसका कोई हल नहीं है , अत्यधिक सोचना ही है।

क्या मैं अत्यधिक सोचता हूं ?

सोचना या किसी वस्तु के बारे मे विचार करना मानव के लिए एक गिफ्ट है। मानवीय मस्तिष्क किसी भी वस्तु या स्थिति या समस्या के बारे विचार करने, सूचनाओं के विष्लेषण करने या फिर किसी प्रोग्राम के क्रियान्वयन मे सक्षम है। यहां पर यह हम कोई विशेष जानकारी या समस्या का हल निकालने का प्रयास करते है। लेकिन अगर एक ही विचार रिपीट करने और उसका कोई हल नहीं निकले तब आप ओवर थिंकिंग या अत्यधिक सोच रहे है।

अधिक सोचना वर्तमान, भूतकाल या भविष्य तीनो से संबंधित हो सकता है।

वर्तमान मे यह आपकी स्थिति, आइडेंटिटी, रिलेशनशिप, स्टेट्स के बारे मे हो सकता है। आप सुबह शाम अपनी रिलेशनशिप के बारे मे सोचते रहते है। यह अच्छा है, कितना अच्छा है, कहां तक उपयोगी रहेगा आदि बहुत से विचार आते रहते है।

जिसे हम चिंता कहते है वह भविष्य के बारे मे ओवर थिंकिंग है। वर्तमान मे ही किसी आने वाले प्रेजेंटेशन या इंटरव्यू के बारे मे सोचते है।

भूतकाल की कोई घटना के बारे मे विचार, ‘घटना न होती तो ठीक रहता ‘ या फिर किसी काम के बार मे ‘ उसे और अच्छी तरह से किया जा सकता था।

अधिक सोचना अनुपयोगी है:

अधिक सोचने रास्ते मे बाधा की तरह होता है । मान लिजिए आप किसी बर्थडे पार्टी मे है और आप कल घटित घटना के बारे मे सोचते है या फिर कल अमुक काम को किस तरह करना है इस पर विचार करना पूर्णतया अनुपयोगी ही है। यह आपके किसी काम नहीं आने वाला है।

अधिक सोचने से कैसे बचना है: ( How to stop overthinking in hindi / Stop Overthinking Meaning in hindi )

अभी तक आप यह तो समझ ही गये होंगे कि अधिक सोचना आपके लिए एक समस्या है एक बाधा की तरह है इससे आपके जीवन मे कुछ भी उपयोगी परिणाम नहीं आते है। बल्कि इसके उलट यह आपके लिए एंग्जायटी, डिप्रेशन और अनिन्द्रा लेकर आ सकता है, अतः हमारी कोशिश होनी चाहिए जहां तक संभव हो सके इससे बचा जाये।

आराम ( Relax )

ज्यादा सोचविचार तनाव का कारण बन सकता है अतः विभिन्न प्रकार की रिलेक्सेशन टेकनीक का प्रयोग करे। इनमें सैर के लिए जाना, संगीत सुनना, योगाभ्यास, मूवी देखना आदि हो सकती है। आपके लिये कौन सी ठीक रहेगी यह आप पर निर्भर करता है।

 माइंडफुलनेस का अभ्यास ( Practice Mindfulness )

अधिक सोचने के ट्रेप मे जाने से बचने के लिये माइंडफुलनेस का अभ्यास करना चाहिए। कुछ समय के प्रयास के बाद आपको इससे लाभ मिलने लगेगा।

प्रोब्लम फोकस्ड थिंकिंग:

आपको ओवर थिंकिंग के बार मे अपने अंदर जागरूकता लानी पडे़गी। आपको थिंकिंग के समय एक सवाल अपने आप से पूछना चाहिए ‘ क्या इसके बारे मे विचार करना मेरे लिये लाभदायक है ‘ इससे आप बेकार के विचारों से बच सकेंगे।

और देखें :

खुद को पहचानों। 

जीतने के लिये खुद पर भरोसा रखे। 

Top 10 Motivational Speakers.

बेहद पावरफुल है अवचेतन मन। 

5 बेहतरीन बुक्स, आपको जरूर पढ़नी चाहिए।

 

ApnisiBaatey