खुद को तैयार कैसे करना है-Prepare Yourself for success-8 Points

| |

खुद को तैयार कैसे करना है-Prepare Yourself for success-8 Points

आज के प्रतिस्पर्धी वातावरण मे खुद को तैयार कैसे करना है, How to prepare yourself  उसके बारे मे बता रहे हैं। कुछ भी कार्य करने से पहले जरूरी है की हम उस कार्य के लिये खुद को तैयार करे। आज हम यहां पर उसी के बारे मे बतायेंगे।

जिदंगी मे कुछ भी आसानी से नहीं मिलता है और ऐसा कुछ भी नहीं है जिसे हासिल न किया जा सके।
जिदंगी 4 X 400 मीटर की हर्डल रेस की तरह है जिसमे परेशानियां और मुसीबतें नाम की हर्डल पार किये बिना आप ये रेस नहीं जीत सकते है।

आप भी सोचते होंगे कि पोस्ट तो मोटीवेशन पर है लेकिन ये डिमोटीवेशन की बात क्यों लिख रहे है। मेरा इरादा आपको डिमोटीवेट करने का विल्कुल नहीं है मै आपको उस हकीकत से रूबरू करना चाहता हूं जिस से आप आगे चल कर दो चार होना पड़ेगा। आसान है आसान है बोल कर चीजे आसान हो जाती तो बहुत अच्छा होता। पर ऐसा होता नहीं है।

मै इस पोस्ट मे आपको बताउंगा की आप अपने लक्ष्य तक कैसे पहुंचेंगे। कृपया पोस्ट को पूरी पढे। और उस पर अमल करेंगे तो आप जरूर ही अपने लक्ष्य तक पहुंचने मे सफल होंगे।

चलिए शुरू करते है।

1.खुद को जानिए : Knowing Yourself is must for prepare yourself

To Prepare yourself, खुद को तैयार करने के लिये कुछ भी करने से पहले अपनी क्षमताओं का आकलन जरूर कर ले। एक लेखा जोखा अपनी सामाजिक , आर्थिक , शारीरिक और मानसिक क्षमताओं का जरूर तैयार कर ले। अपने weak और strong points जरूर जान ले। ये आपके goal setting और उसे हासिल करने मे आपकी मदद करेगा। यह एक जरूरी स्टेप है।

इसको इस तरह से समझते है अच्छे शरीर का 22-25 साल का कोई युवक जो गेम्स भी खेलता है पढाई भी करता है मूवी भी देखता है। वह अपने कैरियर के बारे मे सोचता है। गेम्स खेलता है तो क्या गेम्स मे अपना कैरियर बना सकता है ? इस सवाल का जवाब जानने से पहले और कई सवाल है जैसे कौन सा गेम है, किस लेबल पर खेलता है, आदि आदि।

2.खुद को तैयार करने के लिये खुद को बदलिये : Change Yourself is must for prepare yourself

To prepare yourself खुद को बदलना सीखिये हालात खुद ब खुद बदल जायेंगे। स्वयं मे चेंज लाना थोडा़ सा मुश्किल लगता है ये मानव स्वभाव है वह किसी प्रकार के चेंज का विरोध करता है लेकिन ये इतना भी मुश्किल नहीं है। स्वयं के अंदर लाया गया बदलाव आपकी Personal एवं Professional Life दोनों पर सकारात्मक असर डालता है। मान लीजिए आप देर से उठने के आदी है और आप सुबह जल्दी उठने की आदत डालते है तब एक तो आपके स्वास्थ्य मे सकारात्मक बदलाव आयेगा और दूसरा आपके पास Extra Time बचेगा जिसे आप अपने लक्ष्य पूर्ति मे लगा सकते है।

3.खुद को तैयार करने के लिये अपना लक्ष्य निर्धारित कीजिये: Goal Setting is must to prepare yourself

Goal सेटिंग यानी लक्ष्य निर्धारण, जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए या यों कहें आगे बढनें के लिए हमें एक लक्ष्य की जरूरत पड़ती है। बिना लक्ष्य के आपके प्रयास विफल हो सकते है। इंग्लिश में इसे ही goal setting कहा जाता है।

जीवन मे आगे बढने के लिए जरूरी है कि हम अपने लक्ष्य का निर्धारण कर ले। उसकी प्राप्ति के लिए एक सुनियोजित स्ट्रेटेजी बनाये। फिर उस स्ट्रेटेजी के अनुसार आगे बढ़े। 

4. खुद को तैयार करने के लिये अपनी कमियों को स्वीकार करे : Prepare Yourself for accepting Your Weakness

To  prepare yourself के लिये अपनी कमियों और कमजोरियों पर काम करना उतना ही जरूरी है जितना कि आपका लक्ष्य। इसको ऐसे समझतें हें, आप अगर कभी बीमार पड़ते हो तो क्या करते हो, एक डाक्टर के पास जाते हो उसको अपनी बिमारी के बारे मे बताते हो। और फिर वह आपको उसकी दवा देता है। लेकिन मानलो कि डाक्टर के पास जाकर उसको आप अपनी बिमारी के बारे मे ठीक से नहीं बतायेंगे तो क्या ठीक हो पायेंगे, इसका जवाब है नहीं। यहां पर आप स्वयं अपने डॉक्टर है। अपनी visible और invisible दोनों तरह की कमियों को नोट कीजिये फिर उनको दूर करने का प्रयास कीजिये।

5.अच्छे समय का इंतजार मत कीजिए : Don’t Wait for Good Time

To prepare yourself अच्छे समय का इंतजार मत कीजिये आपका अच्छा समय ही चल रहा है। अगर आप कोई कार्य शुरु करने के लिये परफेक्ट टाईम का इंतजार कर रहे है तो ऐसा मत कीजिए। कोई भी कार्य शुरू करने के लिये परफेक्ट टाईम अभी चल रहा है। यहाँ पर परफेक्ट टाइम का मतलब दोनों से है खुद का परफेक्ट टाइम या काम करने के लिए परफेक्ट टाइम। बहुत से लोग कुछ काम करने अच्छे मुहूर्त या सही समय का इंतज़ार करते है। यह समय नष्ट करने के के अलावा कुच्छ नहीं है। इसे अपनी आदत में शुमार कर लीजिये किसी भी प्रकार से समाया नष्ट नहीं करेंगें। 

6.टाईम मैनेजमेंट :Time Management is must to prepare yourself

To prepare yourself टाईम मैनेजमेंट करना जरुरी है। आपने लोगों को कहते सुना होगा कि कुछ करने का टाईम ही नहीं मिल रहा है। आज का काम कल पर टाल देते है। टाइम न मिलने का जुमला सबसे अधिक प्रचलित है। इसका प्रयोग लगभग सभी लोगों ने किया होगा लेकिन क्या आप लोगों ने सोचा है दिन और रात मे कुल मिलाकर 24 घंटे होते है और दुनियाभर के सारे सक्सेसफुल लोग बिल गेट्स, मार्क जुकरबर्ग, टाटा, बिड़ला, अम्बानी इन 24 घंटो का ही सदुपयोग करते है। 

7.खुद को तैयार करने के लिए आपको क्या करना है : What to Do

To prepare yourself के लिए ये महत्वपूर्ण बिंदु है,आपने 24 घंटों मे क्या क्या किया एक एक मिनट नोट कर लीजिए। फिर इसमे से फालतू, गैर जरूरी चीजे हटा लीजिये। लगभग दो से पांच घंटों का टाईम निकल आयेगा प्रतिदिन। अब अपने लक्ष्य को सामने रख कर अपना टाइम टेबल बना लीजिए देखिये कि इनमे से कितना समय आप अपने लक्ष्य की पूर्ति के लिये दे रहे है।

8.सकारात्मक सोच : Positive Thinking

To prepare youeself के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है सकारात्मक सोच। अपने लिए अच्छे से अच्छा सोचिए। नकारात्मक विचारों को मन मे न पनपने दे। सकारात्मक सोच का आपके कार्य करने की क्षमता, आपकी स्किल एवं आपके स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पडता है। ठीक इसके विपरीत नकारात्मक सोच आपके कार्य करने की क्षमता को संकुचित करती है और आपके स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव डालता है। 

इस बीच आपका धैर्य रखना भी जरूति है सफलता पाने के के लिए आपका धैर्यवान होना जरूरी है

 धीरे धीरे रे मना धीरे सबकुछ होये , माली सींचे सो घड़ा रुत आये फल होये

 

यह पोस्ट आपको कैसी लगी। कृपया कमेंट बाक्स में कमेंट जरूर करे। आपके कमेंट और सुझावों का स्वागत है।

3 thoughts on “खुद को तैयार कैसे करना है-Prepare Yourself for success-8 Points”

Comments are closed.