रजनीकांत का जीवन परिचय। Rajinikanth Biography in Hindi

Rajinikanth Biography in Hindi. रजनीकांत का जीवन परिचय।

Rajinikanth Biography in Hindi
Rajinikanth

Rajinikanth Biography in Hindi- रजनीकांत एक भारतीय अभिनेता, स्क्रीनरीटर और प्रोड्यूसर हैं। वह मुख्य रूप से तमिल सिनेमा में काम करते हैं। उन्होंने तमिल, तेलुगु, कन्नड़, हिंदी और मलयालम फिल्में की हैं। रजनीकांत भारत में सबसे अधिक भुगतान पाने वाले अभिनेता हैं। रजनीकांत के चाहने वाले भारत में हर जगह हैं। उन्हें ‘पद्म विभूषण’ और ‘पद्म भूषण’ जैसे भारत के सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है। उनकी कुछ सबसे ब्लॉकबस्टर फिल्में हैं ‘बिल्ला’, ‘मुरट्टू कलई’, ‘पोक्किरी राजा’, ‘मुंदरू मुगम’, ‘पडिक्कदवन’, ‘मणिथन’, ‘राजधि राजा’, ‘मापिल्लै’, ‘पनक्करन’, ‘धर्म दुरई’,’अन्नामलाई’,’बाशा’,’मुथु’, ‘चंद्रमुखी’, ‘शिवाजी: द बॉस’, ‘एंथिरन’ और ‘2.0’।

रजनीकांत बायोग्राफी / Rajinikanth Wiki ( रजनीकांत का जीवन परिचय- Rajinikanth Biography in Hindi )

असली नाम – शिवाजी राव गायकवाड़

निक नेम – रजनी, थलाइवर, सुपरस्टार

जन्मदिन – 12 दिसंबर, 1950

जन्मस्थान – बैंगलोर, कर्नाटक भारत

पिता का नाम – रामोजी राव गायकवाड़

माँ का नाम – जीजा बाई

भाईयो का नाम – सत्यनारायण राव, नागेश्वर राव

बहन का नाम – अश्वथ बालूभाई

विद्यालय – गविपुरम गवर्नमेंट कन्नड़ मॉडल प्राइमरी स्कूल, बैंगलोर ; आचार्य पाठशाला पब्लिक स्कूल

विश्वविद्यालय – एम. जी. आर. फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ तमिलनाडु

उम्र – Rajinikanth Age – 71 Years Old ( 2021 के अनुसार )

ऊंचाई – Rajinikanth Height – 5′ Feet 8″ Inches

वज़न – 75 KG

राष्ट्रीयता – भारतीय

धर्म – हिंदू

नेट वर्थ – Rajinikanth Net Worth –  $ 50 मिलियन

आंखों का रंग – गहरा भूरा

बालों का रंग – सफेद

राशि का नाम – धनु

रजनीकांत कौन है? ( Who is Rajinikanth ? –  Rajinikanth Biography in Hindi )

रजनीकांत एक भारतीय अभिनेता हैं। वह एक मराठी परिवार से आते हैं। रजनीकांत के पिता का नाम रामोजी राव गायकवाड़ है। उनकी माता का नाम जीजाबाई था। रजनीकांत के दो बड़े भाई और एक बड़ी बहन हैं। उनके भाइयों के नाम सत्यनारायण राव गायकवाड़ और नागेश्वर राव गायकवाड़ हैं। उनकी बहन का नाम अश्वथ बालूभाई है। वह बचपन में मराठी और कन्नड़ में बात करते थे। 26 फरवरी 1981 को रजनीकांत ने लता रंगाचारी से शादी की थी। शादी के बाद लता रंगाचारी ने अपना नाम बदलकर लता रजनीकांत रख लिया था। उनकी दो खूबसूरत बेटियां हैं जिनका नाम ऐश्वर्या रजनीकांत और सौंदर्या रजनीकांत है।

रजनीकांत ऑनलाइन अकाउंट्स लिंक:

1. Rajinikanth Instagram: इंस्टाग्राम अकाउंट का लिंक

2. Rajinikanth Twitter: ट्विटर अकाउंट का लिंक

3. Rajinikanth Facebook: फेसबुक अकाउंट का लिंक

रजनीकांत की शुरूआती जिंदगी: ( Rajinikanth Early Life-Rajinikanth Biography in Hindi)

रजनीकांत का जन्म 12 दिसंबर 1950 को बैंगलोर, कर्नाटक, भारत में हुआ था। रजनीकांत ने अपनी प्राथमिक शिक्षा बैंगलोर के गविपुरम गवर्नमेंट कन्नड़ मॉडल प्राइमरी स्कूल से पूरी की थी। उन्होंने अपनी माध्यमिक शिक्षा आचार्य पाठशाला पब्लिक स्कूल से पूरी की थी। रजनीकांत को खेलो में बड़ी रुचि थी। वे पढाई भी बहुत अच्छे से करते थे और खेलने में भी बहुत अच्छे थे। जब वे आचार्य पाठशाला पब्लिक स्कूल में थे तब वे नाटकों में बहुत भाग लेते थे।

उनको हमारे देश की संस्कृति, परंपरा, इतिहास और वेदों के बारे में काफी जानकारी है। जब वे छोटे तब रजनीकांत के भाई ने उनका दखिला एक ‘रामकृष्ण मठ’ नाम की हिंदी मोनेस्ट्री मैं करवाया था, जहां से रजनीकांत ने ये सब ज्ञान प्रप्त किया था।

रजनीकांत ने अभिनय सिखने के लिए ‘मद्रास फिल्म संस्थान’ में दाखिला लिया था।

रजनीकांत की फिल्में: ( Rajinikanth Movies )

1975 में, रजनीकांत ने तमिल सिनेमा में ‘अपूर्व रागंगल’ नाम की फिल्म के माध्यम से शुरुआत की था।

1976 में उन्होंने कन्नड़ सिनेमा में ‘कथा संगम’ नाम की फिल्म से डेब्यू किया था।

1976 में, उन्होंने ‘एंथुलेनी कथा’ नाम की फिल्म के माध्यम से तेलुगु सिनेमा में डेब्यू किया था।

1976 में, उन्होंने ‘मूंदरू मुदिचु’ और ‘बालू जेनु’ नाम की दो और फिल्में की थीं।

1977 में, वह ‘अवर्गल’, ‘कविक्कुयिल’, ‘रघुपति राघवन राजाराम’, ‘चिलकम्मा चेपिंडी’, ‘भुवन ओरु केल्वी कुरी’, ‘ओंदु प्रेमदा कथा’,’16 वायथिनिले’,’सहोदरारा सावल’, ‘आदु पुली अट्टम’, ‘गायत्री’, ‘कुमकुम रक्षे’, ‘आरु पुष्पंगल’, ‘थोलिरेयी गदिचिंडी’ और ‘गलाटे समसेरा’ नाम की 14 फिल्मों में दिखाई दिए थे।

1978 में, उन्होंने ‘शंकर सलीम साइमन’, ‘खिलाड़ी किट्टू’, ‘अन्नादमुला सावल’, ‘मथु तप्पादा मागा’, ‘मंगुडी माइनर’, ‘बैरावी’, ‘इयामी आंजल आदुकिराथु’,’साधुरंगम’, ‘वनक्कतुकुरिये कथालिये’, ‘वयासु पिलिचिंडी’, ‘मुल्लुम मलरुम’, ‘इराइवन कोडुथा वरम’, ‘थप्पू थलंगल’,’अवल अप्पादिथन’, ‘थाई मेथु साथियम’, ‘एन केल्विक्कु एना बथिल’, ‘जस्टिस गोपीनाथ’, ‘प्रिया’ नाम से 18 फिल्में की थीं।

1979 में, उन्होंने ‘कुप्पथु राजा’, ‘इद्दरु असद्युले’, ‘अल्लाउद्दीनम अलभुथा विलक्कुम’, ‘निनैथले इनिक्कुम’, ‘धर्म युद्ध’, ‘नान वजहवाइप्पन’, ‘टाइगर’,’अरिलिरुन्थु अरुबाथु वरई’ और ‘अन्नई ओरु आलयम’ नाम की 9 फिल्में की थी।

1980 में, उन्होंने ‘बिल्ला’, ‘नचतिराम’, ‘राम रॉबर्ट रहीम’, ‘अंबुकु नान अदीमाई’, ‘काली’, ‘नान पोट्टा सावाल’, ‘जॉनी’, ‘एलम उन कैरासी’,पोल्लाधवन’ और ‘मुरत्तु कलाई’। नाम से दस फिल्में की थीं।

1981 में, उन्होंने ‘थी’, ‘काझुगु’, ‘थिलु मुल्लू’, ‘गर्जनई’, ‘नेत्रिकन’ और ‘रानुवा वीरन’ नाम की छह फिल्में की थीं।

1982 में, उनकी छह फिल्में थीं, जिनका नाम ‘पोक्किरी राजा’, ‘थनिकट्टू राजा’, ‘रंगा’, ‘पुथुकविथाई’, ‘एनकेयो केट्टा कुराल’, ‘मूंदरू मुगम’ था।

1983 में, उन्होंने ‘पायम पुली’, ‘थुडिक्कुम करंगल’, ‘अंधा कानून’, ‘थाई वीडू’, ‘सिवप्पु सोरियां’, ‘जीत हमारी’, ‘अधुता वरिसु’ और ‘थंगा मगन’ नाम की आठ फिल्में की थीं।

1984 में, उन्होंने ‘मेरी अदालत’, ‘नान महान अल्ला’, ‘थंबिक्कु एन्था ऊरु’, ‘काई कोडुक्कुम काई’, ‘इधे ना सवाल’, ‘गंगवा’, ‘नल्लवनुक्कु नल्लवन’ और ‘जॉन जानी जनार्दन” नाम की आठ फिल्में की थीं।

1985 में, उन्होंने ‘नान सिगप्पू मनिथन’, ‘महागुरु’, ‘उन कन्नील नीर वेझिंदाल’, ‘वफादार’, ‘श्री राघवेंद्र’, ‘बेवफाई’ और ‘पडिक्कड़वन’ नाम की सात फिल्में की थीं।

1986 में, उन्होंने ‘मिस्टर भारत’, ‘नान अदीमाई आईआईआई’, ‘जीवन पोरटम’, ‘विदुथलाई’, ‘भगवान दादा’, ‘असली नकली’, ‘दोस्ती दुश्मनी’ और ‘मावीरन’ नाम की आठ फिल्में की थीं।

1987 में उन्होंने ‘वेलाइकरण’, ‘इंसाफ कौन करेगा’, ‘उर्कावलन’, ‘मणिथन’ और ‘उत्तर दक्षिण’ नाम की पांच फिल्में की थीं।

1988 में, उन्होंने ‘तमाचा’, ‘गुरु शिष्य’, ‘धर्मथिन थलाइवन’, ‘ब्लडस्टोन’ और ‘कोडी परक्कुथु’ नाम से पांच फिल्में की था।

1989 में, उन्होंने ‘राजधि राजा’, ‘शिव’, ‘राजा चिन्ना रोजा’, ‘मापिल्लई’ और ‘चालबाज’ नाम की पांच फिल्में की थीं।

1990 में, उन्होंने ‘पनक्करन’ और ‘अथिसया पिरवी’ नाम की दो फिल्में की थीं।

1991 में उन्होंने ‘धमा दुरई’, ‘हम’, ‘फरिश्ते’, ‘खून का कर्ज’, ‘फूल बने अंगरे’, ‘नट्टुक्कू ओरु नल्लवन’ और ‘थलपति’ नाम की सात फिल्में की थीं।

1992 में उन्होंने ‘मन्नन’, ‘त्यागी’, ‘अन्नामलाई’ और ‘पांडियन’ नाम की चार फिल्में की थीं।

1993 में उन्होंने ‘इंसानियत के देवता’, ‘यजमान’, ‘उज़ैप्पली’ और ‘वल्ली’ नाम की चार फिल्में की थीं।

1994 में उन्होंने ‘वीरा’ नाम की एक फिल्म की थी।

1995 में, उन्होंने ‘बाशा’, ‘पेडारायुडु’, ‘आतंक ही आठ’ और ‘मुथु’ नाम की चार फिल्में की थीं।

1997 में उन्होंने ‘अरुणाचलम’ नाम की एक फिल्म की थी।

1999 में उन्होंने ‘पद्यप्पा’ नाम की एक फिल्म की थी।

2000 में उन्होंने ‘बुलंदी’ नाम की एक फिल्म की थी।

2002 में उन्होंने ‘बाबा’ नाम की एक फिल्म की थी।

2005 में उन्होंने ‘चंद्रमुखी’ नाम की फिल्म की थी।

2007 में उन्होंने ‘शिवाजी: द बॉस’ नाम की फिल्म की थी।

2008 में उन्होंने ‘कुसेलन’ नाम की एक फिल्म की थी।

2010 में उन्होंने ‘एथिरन’ नाम की एक फिल्म की थी।

2014 में उन्होंने ‘कोचादइयां’ और ‘लिंगा’ नाम की दो तामिल फिल्में की थीं।

2016 में उन्होंने ‘कबाली’ नाम की एक तमिल फिल्म की थी।

2018 में उन्होंने ‘काला’ और ‘2.0’ नाम की दो तामिल फिल्में की थीं।

2019 में उन्होंने ‘पेट्टा’ नाम की एक तमिल फिल्म की थी।

2020 में उन्होंने ‘दरबार’ नाम की तामिल फिल्म की थी।

2021 में उन्होंने ‘अन्नात्थे’ नाम की एक तामिल फिल्म की थी।

 

पुरस्कार: ( Rajinikanth Awards )

1. 1978 में, उन्होंने ‘मुल्लम मलरम’ नाम की फिल्म के लिए एक तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड जीता था।

2. 1979 में, रजनीकांत ने ‘आरिलिरुन्थु अरुबाथु वारई’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

3. 1982 में, रजनीकांत ने ‘एन्केयो केट्टा कुरल’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

4. 1982 में, उन्होंने ‘मूंदरू मुगाम’ नाम की फिल्म के लिए एक तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड जीता था।

5. 1984 में, रजनीकांत को ‘कलाईमामनाई’ अवार्ड से सम्मानित किया गया था।

6. 1984 में, रजनीकांत ने ‘नल्लवनुकु नल्लवन’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

7. 1984 में, रजनीकांत ने ‘नल्लवनुकु नल्लवन’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का सिनेमा एक्सप्रेस अवार्ड जीता था।

8. 1984 में, रजनीकांत ने ‘नल्लवनुकु नल्लवन’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर – तमिल का फिल्मफेयर अवार्ड साउथ जीता था।

9. 1985 में, रजनीकांत ने ‘श्री राघवेंद्र’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का सिनेमा एक्सप्रेस अवार्ड जीता था।

10. 1985 में, रजनीकांत ने ‘श्री राघवेंद्र’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

11. 1988 में, रजनीकांत ने ‘ब्लडस्टोन’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट अचीवर का सिनेमा एक्सप्रेस अवार्ड जीता था।

12. 1991 में, रजनीकांत ने ‘थलपथी’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का सिनेमा एक्सप्रेस अवार्ड जीता था।

13. 1991 में, रजनीकांत ने ‘थलपथी’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

14. 1992 में, रजनीकांत ने ‘अन्नामलाई’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का सिनेमा एक्सप्रेस अवार्ड जीता था।

15. 1992 में, रजनीकांत ने ‘अन्नामलाई’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

16. 1993 में, रजनीकांत ने ‘वल्ली’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट स्टोरी राइटर का सिनेमा एक्सप्रेस अवार्ड जीता था।

17. 1993 में, रजनीकांत ने ‘वल्ली’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट स्टोरी राइटर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

18. 1995 में, रजनीकांत ने ‘पेडारायुडु’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का साउथ स्क्रीन अवॉर्ड जीता था।

19. 1995 में, रजनीकांत ने ‘बाशा, मुथु’ नाम की फिल्मों के लिए बेस्ट एक्टर का सिनेमा एक्सप्रेस अवार्ड जीता था।

20. 1995 में, उन्होंने ‘मुथु’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड जीता था।

21. 1995 में, रजनीकांत ने ‘बाशा, मुथु’ नाम की फिल्मों के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफैंस एसोसिएशन अवार्ड जीता था।

22. 1999 में, उन्होंने ‘पदयप्पा’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड जीता था।

23. 2000 में, रजनीकांत को भारत सरकार से ‘पद्म भूषण’ से सम्मानित किया गया था।

24. 2005 में, उन्होंने ‘चंद्रमुखी’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड जीता था।

25. 2007 में, उन्होंने इंडियन एंटरटेनर ऑफ़ द ईयर के लिए ‘एन डी टी वी अवार्ड’ जीता था।

26. 2007 में, रजनीकांत ने ‘शिवाजी’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट हीरो विजय अवार्ड जीता था।

27. 2007 में, उन्होंने ‘शिवाजी’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड जीता था।

28. 2010 में, उन्होंने भारतीय सिनेमा में उत्कृष्टता के लिए शेवेलियर शिवाजी गणेशन अवार्ड जीता था।

29. 2010 में, उन्होंने ‘एंथिरन’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट विलन का विजय अवार्ड जीता था।

30. 2011 में, रजनीकांत ने ‘एम जी आर – शिवाजी अवार्ड’ जीता था।

31. 2011 में, उन्होंने एंटरटेनर ऑफ़ द डिकेड के लिए ‘एन डी टी वी अवार्ड’ जीता था।

32. 2011 में, उन्होंने सबसे स्टाइलिश अभिनेता होने के लिए ‘एन डी टी वी अवार्ड’ भी जीता था।

33. 2013 में, उन्होंने ‘द 25 ग्रेटेस्ट ग्लोबल लिविंग लीजेंड्स’ में से एक होने के लिए ‘एन डी टी वी अवार्ड’ जीता था।

34. 2014 में, उन्होंने ‘लिंगा’ नाम की फिल्म के लिए बेस्ट हीरो का विजय अवार्ड जीता था।

35. 2016 में उन्होंने एनटीआर नेशनल अवार्ड जीता था।

36. 2016 में, रजनीकांत को ‘पद्म विभूषण’ अवार्ड से सम्मानित किया गया था।

37. 2021 में, रजनीकांत ने दादा साहब फाल्के अवॉर्ड जीता था।

38. रजनीकांत ने दो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया के खिताब भी जीते थे।

रजनीकांत की आने वाली फिल्में: ( Rajinikanth Upcoming Movies )

1. चंद्रमुखी 2 ( Chandramukhi 2 ) – पी. वासु द्वारा निर्देशित

MORE FACTS ABOUT RAJINIKANTH:

1. रजनीकांत का असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ है।

2. एक्टिंग से पहले, रजनीकांत ने बस कंडक्टर और कुली के रूप में काम कर रखा है।

3. उनके दोस्त राज बहादुर ने उन्हें अभिनय करने के लिए जोर दिया था क्योंकि राज ने रजनी की एक्टिंग में प्रतिभा को परख लिया था।

4. ‘के बालचंदर’ नाम के एक निर्देशक ने एक बार रजनी से कहा था कि अगर वह सिनेमा में काम करना चाहते हैं तो तमिल सीखें और रजनी ने उस बात को गंभीरता से लें लिया था और तमिल सीखने की पूरी कोशिश की थी। इस बात का फायदा उन्हें मिला और आज वो तमिल सिनेमा के सबसे बड़े सेलिब्रिटी कहलाते हैं।

5. रजनीकांत की बड़ी बेटी ऐश्वर्या की शादी धनुष से हुई थी। धनुष भी रजनीकांत की तरह तमिल सिनेमा के एक बहुत बड़े सेलिब्रिटी हैं। धनुष एक अभिनेता, डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और पार्श्व गायक हैं।

6. 2011 में जब रजनीकांत ‘राणा’ नाम की फिल्म के लिए शूटिंग कर रहे थे तब अचानक से उनकी तबीयत खराब हो गई थी। वे अपना इलाज करवाने के लिए सिंगापुर गए थे। वह अपने इलाज के लिए लगभग 5-6 महीने तक अस्पताल में भर्ती रहे थे।

7. रजनीकांत जापान में बहुत प्रसिद्ध है। उनकी फिल्में जैसे की ‘डांसिंग महाराजा’,’दरबार’,’बादशा’,’पादायप्पा’,’ईजमान’ जापानी लोगो द्वारा बहुत पसंद की गई थी। ओसाका, कोब, नायोगा और निगाता जैसे जापान के शहरों में रजनीकांत की फिल्में खूब चलती है।

8. रजनीकांत को प्यार से लोग ‘थलाइवा’ कहते हैं जिसका मतलब ‘लीडर’ होता है। उनके प्रशंसक उन्हें भगवान की तरह मानते हैं, खासकर दक्षिण भारत के लोग उनसे बहुत जुड़े हुए हैं।

FAQs:

Q: रजनीकांत की उम्र कितनी है?

Ans: 71 Years Old

Q: रजनीकांत की नेटवर्थ कितनी है ?

Ans: $ 50 मिलियन

Q: रजनीकांत की नागरिकता क्या है ?

Ans: भारतीय

Q: रजनीकांत कहा रहते है ?

Ans: चेन्नई

Q: रजनीकांत का दामाद कौन है ?

Ans: धनुष

और देखे:

राघव जुयाल का जीवन परिचय।

नोरा फतेही का जीवन परिचय। 

राम चरण का जीवन परिचय। 

एन. टी. रामा राव जूनियर का जीवन परिचय।

शिल्पा शेट्टी का जीवन परिचय। 

Leave a Comment

ApnisiBaatey