Ratan Tata – Indian Industrialist-रतन टाटा – भारतीय उद्योगपति

| |

रतन टाटा – Ratan Tata

अग्रणी भारतीय उद्योगपतियों मे से एक है। रतन टाटा सबसे बड़े उद्योग समूह टाटा ग्रुप आफ कम्पनीज के पूर्व अध्यक्ष है। वर्तमान मे वे टाटा समूह के चेरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं।

Ratan Tata , टाटा ग्रुप की अन्य कम्पनियों टाटा स्टील टाटा मोटर्स टाटा पावर टाटा कन्सल्टेंसी सर्विसेस टाटा केमिकल्स इंडियन होटेल्स के अध्यक्ष भी रहे हैं। रतन टाटा के नेतृत्व मे टाटा ग्रुप ने नई उंचाइयों को छुआ है।

रतन टाटा का प्रारंभिक जीवन ( Ratan Tata Earlt Life)

Ratan Tata का जन्म 28 दिसम्बर 1937 को सूरत भारत मे सोनू टाटा और नवल टाटा के घर मे हुआ था। उनके के माता पिता जब अलग हुये उस समय रतन उनकी की उम्र सिर्फ 10 साल थी और उनके छोटे भाई जिमी की 7 साल थी। इसे बाद इनकी दादी नवजबाई टाटा ने दोनों भाईयों का पालन पोषण किया। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा कैम्पियन स्कूल और जॉन कैनन कैथड्रल स्कूल मुंम्बई से की। इसके बाद 1962 मे उन्होंने अपना बी एस वास्तुकला मे स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग के साथ कार्नेल विश्वविद्यालय से की।

बाद मे 1975 मे हावर्ड बिजनेस स्कूल से एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम पूरा किया।

कैरियर

Ratan Tata ने अपने केरियर की शुरुआत 1961 मे टाटा ग्रुप के साथ की 1971 मे इन्हें राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स कम्पनी का प्रभारी निदेशक नियुक्त किया गया। 

वह 1981 मे टाटा इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष बने। जे आर डी टाटा ने 1991 मे रतन टाटा को Tata group of companies का अध्यक्ष नियुक्त किया। टाटा समूह के अध्यक्ष के रुप मे उन्होंने समूह को अंतरराष्ट्रीय मान्यता और ख्याति दिलायी। टाटा समूह अब न्यूयोर्क स्टाक एक्सचेंज मे लिस्टेड है और अब अंतरराष्ट्रीय ब्रांड बन चुका है।

प्रमुख कार्य

Ratan Tata की अध्यक्षता मे टाटा मोटर्स ने अपनी पहली इंडियन कार टाटा इंडिका सफलतापूर्वक लांच की। उनके के नेतृत्व मे टाटा ग्रुप ने अनेकों ऊंचाइयों को छुआ। टाटा ग्रुप की सफलताओं मे टाटा टी ने टेंटली टाटा मोटर्स ने जगुआर लैड रोवर टाटा स्टील ने कोरस का अधिग्रहण शामिल है। रतन टाटा ने दुनियां की सबसे सस्ती कार बनाने का सपना देखा था। उन्होंने 1 लाख रूपये की दुनियां की सबसे सस्ती कार भारत मे बनायी। जनवरी 2008 आटो एक्सपो मे नैनो नाम से इसे लांच कर अपना सपना पूरा किया।

वह जनवरी 2012 मे टाटा ग्रुप के सभी कार्यकारी पदों से अलग हो गये। उनकी जगह 44 वर्षीय सायरस मिस्त्री ने ली।

वह एक परोपकारी ब्यक्ति भी हैं। वह अपने हिस्से का 65% धर्मार्थ ट्रस्टों मे लगाते है। उनके जीवन का मुख्य उद्देश्य मानव विकास के साथ साथ भारतीयों के जीवन मे गुणवत्ता लाना भी है।

अभी Ratan Tata प्रधानमंत्री ब्यापार और उद्योग परिषद के अध्यक्ष के तौर पर नियुक्ति है।

पुरस्कार और उपलब्धियां

  • 2000 मे भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया।
  • 2004 मे उरूग्वे सरकार से ओरियंटल रिपब्लिक आफ उरूग्वे प्राप्त किया।
  • 2005 मे अंतरराष्ट्रीय विशिष्ट उपलब्धि पुरस्कार 
  • 2007 मे लंदन स्कूल आफ इकनॉमिक्स एंड पोलिटिकल साइंस की मानद फैलोशिप से सम्मानित किया गया।
  • 2009 मे इटली सरकार की ओर से ग्रेंड आफिसर आफ द आर्डर आफ मेरिट आफ इटेलियन रिपब्लिक का अवार्ड मिला।
  • 2009 मे यूनाइटेड किंगडम मानद नाइट कमांडर आफ द आर्डर के खिताब से नवाजा गया।
  • 2010 मे उन्होने बिजनस फार पीस फाउंडेशन द्वारा प्रस्तुत ” ओस्लो बिजनेस फार पीस अवार्ड ” जीता।
  • 2014 मे उन्हें ” द आर्डर आफ द ब्रिटिश अम्पायर ” का मानद ग्रेड क्रास प्रदान किया गया।

ब्यक्तिगत जीवन ( Ratan Tata Personal Life)

वह एक अविवाहित ब्यक्ति है। वह हमेशा लो प्रोफाइल लाइफ स्टाइल जीना पसंद करत है। वह मुंबई मे एक साधारण से घर मे रहते है।

Ratan Tata एक पारसी परिवार से है जो बडौदा राज्य अब गुजरात से आये है। टाटा परिवार के मुखिया जमशेदजी नुसरवानजी टाटा थो। जिन्होने टाटा औद्योगिक घराने की नींव भारत मे रखी।

रतन टाटा का परिवार भारतीय उद्योगपतियों और परोपकारी लोगो का परिवार है। जिन्होंने भारत के विकास के लिये अहम साबित होने वाले लोहा और स्पात निर्माण और पन बिजली सयंत्रों टी स्थापना की।

 

और भी पढ़ें :

बिल गेट्स – Motivational Story in Hindi-Bill Gates.

स्टीव जॉब्स – Steve Jobs Motivational story in Hindi.

जेफ बेजोस – Jeff Bezos Motivational story in Hindi.

जैक मा – Jack Ma Motivational story in Hindi.

1 thought on “Ratan Tata – Indian Industrialist-रतन टाटा – भारतीय उद्योगपति”

Comments are closed.