Supam Maheshwari- सह संपादक First Cry की सफलता की कहानी

| |

Supam Maheshwari Success Story
Supam Maheshwari Success Story

Supam Maheshwari- सह संस्थापक FirstCry।

Supam Maheshwari, पूणे , महाराष्ट्र बेस्ड आनलाईन पोर्टल Fristcry.com के सह संस्थापक है। यह कम्पनी बेबी केयर प्रोडक्ट की आन लाईन बिक्री करती है। सुुपम अपने परिवार मे प्रथम पीढी़ के ब्यवसायी हैं, उन्होंने अपनी पढा़ई पूरी करने केे बाद औरों की तरह नौकरी न करके सीधे ब्यवसाय करने को वरीयता दी।

Supam Maheshwari एक तेज तर्रार बिजनेस मैन हैं जो सालिड प्लानिंग और उसके क्रियान्वयन के लिये जाने जाते हैं। सुपम एक कुशल रणनितीकार और लीडर है टीम का नेतृत्व बेहतर ढंग से करते हैं।

Supam Maheshwari की शिक्षा

सुपम ने एपीजे हाई स्कूल से शिक्षा के बाद दिल्ली कालेज आफ इंजीनियरिंग से मैकेनिकल इंजीनियरिंग 1991- 95 मे डिग्री पूरी की। उसके उपरांत उन्होंने IIM हैदराबाद से पोस्ट ग्रेजुएशन 1995-97 मे पूरी की।

FirstCry की शुरुआत

सुपम ने FirstCry की शुरुआत करने से पहले Brainvisa Technology नामक कंपनी की शुरुआत की। जो शीघ्र ही भारत की सबसे बडी ई लर्निंग कंपनियों मे से एक बन गयी। यह कंंपनी दुनियाभर के ब्यवसायोंं को उनकी समस्याओं के समाधान की सेवा देते हैं। 8 साल से भी कम अवधि मे सुपम ने Brainvisa को विश्व के बडेे ई लर्निंग समाधान देेेने वाली कंंपनी के रूप मे तैयार किया।

Brainvisa के आफिस भारत, अमेरिका, यूरोप और आस्ट्रेलिया आदि मे हैं। उनके पास 450 लोगों की विशाल टीम के साथ टेलिकॉम, टेक्नोलॉजी, विमानन, रसद, फार्मास्युटिकल आदि क्षेत्रों के एक्सपर्ट मौजूद थे।

Supam Maheshwari ने 2007 मे Brainvisa को US बेस्ड कंपनी Indeecomm Global को $ 25 मिलियन मे बेच दिया।

उसके बाद भी सुपम ब्रेनवीसा से 2009 तक जुड़े रहे। अब वह एक नया उपक्रम लांच करने की तैयारी मे थे। Brain visa मे काम करने के साथ वह एक बच्ची के पिता भी बन गये थे।

अपने यूरोप और अमेरिका के बिजनेस प्रवास के दौरान वह अपनी बेटी के लिए तरह तरह के खिलोने और और बेबी केयर प्राडक्ट लेकर आते थे। इन उत्पादों की गुणवत्ता पर भरोसा किया जा सकता था। लेकिन लोकल लेवल पर इनमे से कई उत्पाद मौजूद नहीं थे। अपनी बेटी के लिए इन उत्पादों को खोजते वक्त उन्होंने महसूस किया कि घरेलू मार्केट मे इनकी भारी डिमांड है, देशी और विदेशी दोनों तरह के उत्पादों की डिमांड पर उन्होंने रिसर्च करना शुरु किया और पाया कि भारत मे बेबी केयर प्रोडक्ट का 50,000 करोड़ रुपये ब्यापार हुआ है जिसमे से 95% आफलाइन था।

इस बीच बेबी केयर उत्पादों की मांग, लोगों के खर्च करने की क्षमता मे उल्लेखनीय बृद्धि हुयी है। लेकिन अच्छी गुणवत्ता वाले प्रोडक्ट की आम जनता तक पहुंच आसान नहीं थी।

अब एक बिजनेस माडल उनके पास था, अब वह एक ऐसा प्लेटफार्म बनना चाहते थे, जहां पर उच्च गुणवत्ता वाले प्राडक्टस और भारतीय पैरेंट्स के बीच की दूरी को कम किया जा सके।

सुपम ने अपने दोस्त अमिताव साह के साथ मिलकर वर्ष 2010 मे FirstCry.com लांच की। उन्होंने अपने सेविंग्स 2.5 Cr की सीड फंडिंग की।

आज भारत मे 100 से अधिक शहरों मे FirstCry के 300 से अधिक आउटलेट हैं। कंपनी मे 1200 से अधिक एम्प्लॉई हैं। आज भारत मे बच्चों से संबंधित सामान का यह सबसे बडा़ आनलाईन स्टोर है।

FirstCry को वर्ष 2013 मे ” मोस्ट पापुलर आनलाईन साईट ” का अवार्ड मिल चुका है।

 

और भी देखें:

 

 

1 thought on “Supam Maheshwari- सह संपादक First Cry की सफलता की कहानी”

Comments are closed.

ApnisiBaatey